Tuesday , August 16 2022

आठवीं के छात्र ने दोस्‍त से सूद पर कर्ज लिया

रकम जब बढ़कर 35 हजार पार कर गई तो उसे चुकाने के लिए खुद के अपहरण का नाटक रच डाला। साजिश में शाहिमल उसके दोस्‍त ने फिरौती में तीन लाख रुपयों की मांग की। लेकिन जब राज खुला तो पुलिस भी दंग रह गई। घटना पटना के पोस्‍टल पार्क इलाके की है।

आठवीं के छात्र ने रची साजिश

मिली जानकारी के अनुसार पटना के एक बड़े निजी स्कूल के आठवीं कक्षा में पढऩे वाले छात्र ने कर्ज की रकम चुकाने के लिए खुद के अपहरण का नाटक रच डाला। सूचना मिलने के महज एक घंटे के अंदर छात्र को पुलिस ने उसके घर के पास ही खोज निकाला।  एसएसपी मनु महाराज ने तकनीकी अनुसंधान से छात्र का ठिकाना ढूंढने में कामयाब राजीव नगर थानाध्यक्ष रोहण कुमार, विशेष सेल के एएसआइ कुमार गौरव और पीटीसी शिवजी प्रसाद को पांच-पांच हजार रुपये नकद व प्रशस्तिपत्र देकर पुरस्कृत किया।

कोचिंग गया था, लौटकर नहीं आया

स्कूली छात्र का घर पोस्टल पार्क के रोड नंबर एक में है। उसके पिता ट्रांसपोर्ट का कारोबार करते हैं। वह शुक्रवार की शाम घर से कोचिंग के लिए निकला तो लौटकर नहीं आया। मोबाइल बंद मिल रहा था। देर रात पिता ने थाने में गुमशुदगी की तहरीर दी। पुलिस ने रात में उसके कुछ दोस्तों और कोचिंग संचालक से संपर्क किया, लेकिन अता-पता नहीं चला।

शनिवार की सुबह छात्र के मोबाइल से उसके पिता के नंबर पर तीन लाख रुपये फिरौती के लिए कॉल आई। कॉल छात्र के दोस्त ने की थी। उससे फोन पर पिता की बात कराई। छात्र ने पिता से झूठ कहा कि उसे कुछ लोग उठाकर ले गए हैं। वह कहां है, यह नहीं पता चल रहा। जल्दी रुपये का इंतजाम कर मुक्त कराएं। इसके बाद छात्र के दोस्त ने कहा कि रुपये कब और कहां पहुंचाने हैं, इसके लिए वह 11 बजे कॉल करेगा।

वाहनों की जांच चल ही रही थी कि छात्र का मोबाइल ऑन हो गया। टावर लोकेशन के आधार पर पुलिस उसके घर से कुछ दूरी पर बिग्रहपुर इलाके में पहुंच गई। देखा कि छात्र अपने दोस्त के साथ सड़क पर टहल रहा था। दोनों को तत्काल हिरासत में ले लिया गया। दो लड़के और पकड़े गए।

कर्ज चुकाने को रची साजिश

पूछताछ में छात्र ने बताया कि उसने अपने दोस्त अभिषेक से ऐश-मौज करने के लिए 5000 रुपये सूद पर लिए थे। वह रकम चुका नहीं सका और सूद की राशि बढ़कर सात गुना अधिक हो गई थी। 35 हजार रुपये कर्ज चुकाने का उसे कोई दूसरा उपाय समझ में नहीं आ रहा था। उसे मालूम था कि पिता के पास तीन लाख रुपये हैं, इसलिए उसने खुद के अपहरण की साजिश रच डाली। तीन दोस्तों ने भी उसका साथ दिया। फिरौती मांगते वक्त उसके दोस्त ने छात्र के पिता को पुलिस के पास नहीं जाने की धमकी भी दी थी।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com