Wednesday , August 3 2022

कर्जधारकों को बड़ी राहत : कार, होम लोन और अन्य ऋणों के भुगतान के लिए 60 दिन का अतिरिक्त समय

मुंबई: रिजर्व बैंक ने बैंकों और गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों के कर्जदारों की नकदी की समस्या को देखते हुए एक करोड़ रुपये तक के आवास, कार, कृषि एवं अन्य कर्ज के भुगतान के लिए 60 दिन का अतिरिक्त समय दिया है. इस अवधि में बैंकों को ऐसे ऋणों को एनपीए की श्रेणी में नहीं दिखाने की छूट होगी.

रिजर्व बैंक ने एक अधिसूचना में कहा कि यह 1 नवंबर से 31 दिसंबर के बीच भुगतान की जाने वाली किस्तों पर लागू होगा. यह छूट उन कर्जदार इकाइयों के लिए भी उपलब्ध है, जिन्होंने एक करोड़ रुपये या उससे कम की कर्ज सीमा के साथ बैंक से कारोबार के रोजमर्रा खर्च के लिए कर्ज ले रखा है और इसके लिए क्रियाशील पूंजी खाता खोल रखा है.
home-flat-modi-scheme
केंद्रीय बैंक ने कहा है कि इस छूट से बैंकों और किसी प्रकार की एनबीएफसी के खाते में एक करोड़ रुपये या उससे कम की स्वीकृत सीमा के सावधि के व्यावसायिक या व्यक्तिगत ऋणों को भी इस छूट का फायदा होगा। ये ऋण गारंटी वाले या बगैर गारंटी दोनों तरह के हो सकते हैं. इनमें आवास और कृषि ऋण भी शामिल होंगे.

आरबीआई कहा कि सभी नियमित वित्तीय संस्थानों को इस पर गौर करना चाहिए कि यह व्यवस्था कुछ समय के लिए है. इसका मकसद उक्त अवधि के दौरान भुगतान में देरी के कारण फंसे ऋण के वर्गीकरण को कुछ समय के लिए टालना है और यह ऋण का पुनर्गठन नहीं है.

गौरतलब है कि बैंकों को रिजर्व बैंक द्वारा निर्धारित एक निश्चित समय सीमा के बाद भी ऋण की किस्तों की वसूली न होने पर उसके लिए पूंजी का प्रावधान करना पड़ता है, जिससे उनके लाभ पर असर होता है.

IBN7

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com