Tuesday , August 2 2022

केंद्र में है मजबूत कलेजे वालों की सरकार- नोटबंदी पर बोले राजनाथ सिंह !

रेवाड़ी। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि आर्थिक विषमता की खाई को कम करने के लिए सरकार ने कई प्रभावी कदम उठाए हैं। नोटबंदी इसी से संबंधित एक कदम है। इससे एक माह तक लोगों को परेशानी हो सकती है, लेकिन इसके बाद भारत की राजनीति में पवित्रता आएगी। अमीर और गरीब के बीच की खाई कम होगी।

राजनाथ ने कहा कि इससे अगले 15 वर्षों में भारत विश्व की आर्थिक महाशक्ति बन जाएगा। चुनावों में पैसे के दुरूपयोग का सिलसिला इससे बंद हो जाएगा। राजनैतिक चंदे पर रोक लगाने के लिए भी बहस शुरू हो चुकी है। शासन और प्रशासन में पारदर्शिता आएगी। कोई भ्रष्टाचार की हिम्मत नहीं करे, इसकी व्यवस्था की जा रही है। उन्‍होंने कहा कि हमारी सरकार मजबूत कलेजे वालों की सरकार है।
rajnath_comments_note_banned
राजनाथ बुधवार को रेवाड़ी के हुडा ग्राउंड में केंद्रीय शहरी विकास राज्‍य मंत्री राव इंद्रजीत सिंह की ओर से आयोजित शहीद सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। पाकिस्तान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि सभी पड़ोसी देशों को यह संदेश दे चुके हैं कि हम उनके साथ शांति चाहते हैं। पाकिस्तान के आतंकवादियों ने हमारे सैनिकों पर हमला किया, तो सेना के जवानों ने दिखा दिया कि हम इधर भी मार सकते हैं और उधर भी।

एसवाईएल का पानी जरूर लाउंगा: खट्टर

इस मौके पर सीएम मनोहरलाल खट्टर ने कहा कि पीएम ने नोटबंदी करके कालाबाजारी बंद करने की दिशा में एक सराहनीय कदम उठाया है। उन्होंने कहा कि एसवाईएल के लटके मामले को निपटाने के लिए अर्जी लगाई और प्रदेश को इसमें जीत मिली। दक्षिणी हरियाणा की प्यास बुझाने के लिए एसवाईएल का संकल्प लिया हुआ है और हम दक्षिणी हरियाणा में एसवाईएल का पानी जरूर लाएंगे। दक्षिणी हरियाणा के लिए लिफ्ट सिंचाई सिस्टम को ठीक किया गया है। हमें अभी यमुना से भी पूरा पानी नहीं मिल रहा है। उसके लिए भी करोड़ों रुपये की राशि खर्च की गई है।

आज के ही दिन पांच हजार लोगों ने दी थी प्राणों की आहुति

केंद्रीय शहरी विकास राज्‍यमंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने कहा कि हरियाणा एक ऐसा प्रांत है, जहां दस में से एक युवा सेना या पुलिस में भर्ती होकर देश की रक्षा करता है। 16 नवंबर 1857 को नसीबपुर के मैदान में अंग्रेजों से ऐतिहासिक युद्ध हुआ था। इस युद्ध में राव तुलाराम के नेतृत्व में विभिन्न जातियों के पांच हजार लोगों ने अपने प्राणों की आहुति दी। इसी की याद में यह कार्यक्रम आयोजित किया गया।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com