Monday , August 15 2022

बिहटा एयरपोर्ट तक के लिए शिवाला से एलिवेटेड रोड के प्रोजेक्ट पर जब बात की जाती है तो कहते हैं कि अाइडिया अच्छा है।

 शिवाला-बिहटा एलिवेटेड रोड के निर्माण में एनएचएअाई के रवैये से खिन्न मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को केंंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी का अप्रत्यक्ष रूप से जिक्र करते हुए कहा कि केंद्र के मंत्री जी को उनके अधिकारी काम नहीं करने दे रहे।सैद्धांतिक रूप से स्वीकार किए जाने की बात कहते हैं पर काम नहीं होता। उनके अधिकारी नहीं होने देते काम। अगर केंद्र ने मदद नहीं की तो शिवाला से बिहटा के बीच अपने एमडीअार पर राज्य सरकार अपनी राशि से एलिवेटेड सड़क का निर्माण कराएगी।

राजधानी स्थित अधिवेशन भवन मे कांट्रैक्ट पर पथ निर्माण व भवन निर्माण विभाग में नियुक्त तीन सौ सहायक अभियंताअों के अारिएंटेशन कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने यह बात कही। उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव व भवन निर्माण मंत्री माहेश्वर हजारी भी इस मौके पर मौजूद थे

एनएच पर खर्च राज्य का पैसा मांगते हैं तो हंसते हैं

मुख्यमंत्री ने कहा वर्ष 2006 में राज्य सरकार ने अपनी निधि से 970 करोड़ रुपए खर्च कर एनएच की मरम्मत कराई। एेसी कोई भी मीटिंग नहीं जो एनएच को लेकर केंद्र सरकार के साथ हुई जिसमें हम इस राशि को लौटाने की मांग नहीं करते। पर अब तो यह हाल है कि हमलोग जब इस पैसे की वापसी की मांग करते हैं तो वे लोग हंसते रहते हैं।

सड़क बनाने से ज्यादा महत्वपूर्ण उसका मेंटेनेंस

मुख्यमंत्री ने कहा कि सड़क बनाने से अधिक महत्वपूर्ण है उसका मेंटेनेंस। अब ग्रामीण सड़कों के लिए भी मेंटेनेंस नीति के तहत काम हो रहा। सूबे के सुदूरवर्ती इलाके से पांच घंटे के भीतर राजधानी पहुंचा जा सके इस लक्ष्य के साथ काम हो रहा है।

कांट्रैक्ट पर नियुक्त इंजीनियरों को मिलेगा वेटेज

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांट्रैक्ट पर नियुक्त हुए सरकारी इंजीनियरों को अपने नौकरी के स्थयीकरण को लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं है। स्थायी नौकरी में उन्हें स्वतः वेटेज मिलेगा।

अच्छा काम करने पर जनप्रतिनिधि से अधिक याद करते हेैं लोग

नव नियुक्त सहायक अभियंताअों से मुख्यमंत्री ने यह अपील किया कि अाप अच्छा काम करें। अच्छा काम करने वाले इंजीनियर को लोग जनप्रतिनिधि से अधिक याद करते हैं।

तेजी से काम कीजिए अब बहाना नहीं बना सकते

मुख्यमंत्री ने कहा कि पुराने इंजीनियरों को अधिक काम करना पड़ रहा है। दरअसल अधिक काम करने की उन्हें अादत नहीं रही है। अब काम अधिक हो रहा है। अब वे लोग इंजीनियर कम होने का बहाना भी नहीं बना सकते। तेजी ,से काम कीजिए।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com