Monday , August 15 2022

मीसा ने कहा कि मेरे बयान का गलत अर्थ निकाला गया है.

बिहार की प्रमुख विपक्षी पार्टी आरजेडी से राज्यसभा सदस्य और आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद की बड़ी बेटी मीसा भारती ने दोनों भाइयों तेजप्रताप यादव और तेजस्वी यादव के बीच मनमुटाव वाले बयान पर सफाई दी है. मीसा ने कहा कि मेरे बयान का गलत अर्थ निकाला गया है. मीसा ने अपनी सफाई में कहा, “मैंने पार्टी कार्यकर्ताओं से मतभेद भुलाकर एकजुट रहने के लिए कहा था. इस टिप्पणी का मेरे परिवार से कोई लेना-देना नहीं था. हमारा परिवार एकजुट है और कोई मतभेद नहीं है.”  

मनेर में एक कार्यक्रम में दिया था यह बयान

पटना के पास मनेर में एक कार्यक्रम के दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मीसा ने कहा था, “पार्टी को हमेशा झेलना पड़ता है. मतलब सामने से कोई नहीं आता है. सब पीछे से वार करते हैं. महिला हूं पर इतने पुरूषों के बीच आपलोगों से एक बात कहना चाहती हूं कि अगर आप सामने से लड़ेंगे तो हम झांसी की रानी की तरह लड़ लेंगे लेकिन पीठ में खंजर मारेंगे तो इसे हम अब बर्दाशत नहीं करेंगे. चाहे वह पार्टी का कोई भी कार्यकर्ता हो…. थोड़ा मनमुटाव किसमें नहीं. जब हमारे हाथ की पांच अंगुली बराबर नहीं है. हमारे परिवार में भाई—भाई में मनमुटाव है तो फिर राष्ट्रीय जनता दल तो बहुत बड़ा परिवार है. वोट की कमी आरजेडी को नहीं है.’’ 

जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने चारा घोटाला के मामले में सजा काट रहे लालू प्रसाद का जिक्र करते हुए आरोप लगाया कि जिस परिवार के सभी लोग राजनीति करेंगे तो वहां ऐसा होना स्वभाविक है. लालू का इलाज रांची में चल रहा है. उन्होंने कहा कि वे इस बात को लगातार कहते रहे हैं कि पिता जेल में है और उनके पुत्र सत्तासंघर्ष में लगे हुए हैं. यह कैसी मानसिकता है. उल्लेखनीय है कि आरजेडी प्रमुख के जेल जाने के बाद से विरोधी दल लालू परिवार में सत्ता संघर्ष और मनमुटाव के आरोप लगाते रहे हैं जिसका तेजप्रताप और तेजस्वी खंडन करते रहे हैं.

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com