Friday , August 12 2022

रामविलास पासवान ने सबसे पहले गुरू से मुलाकात की

शिक्षक के बिना आदर्श समाज की कल्पना नहीं की जा सकती है. व्यक्ति के जीवन में शिक्षक का खास महत्व होता है. शिक्षक को भगवान से बड़ा दर्जा मिला है. चाहे वह आम नागरिक हो, खिलाड़ी हो, अभिनेता हो या फिर नेता हो, किसी न किसी का कोई गुरू जरूर होता है. एलजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने साठ साल बाद अपने जीवन के सबसे पहले गुरू से मुलाकात की तो फूले नहीं समाए. अपने ट्वीटर पर उन्होंने तस्वीर शेयर की, जिसमें उनके चेहरे का भाव सबकुछ बयां कर रहा है.

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com