Wednesday , August 3 2022

वरदा साइक्लोन:चक्रवाती तूफान से अाई तबाही, जान-माल का भारी नुकसान

बंगाल की खाड़ी में उठे भीषण चक्रवाती तूफान ‘वरदा’ ने तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई में दस्तक देते ही कोहराम मचा दिया है। तूफान के कारण अब तक दो लोगों की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि तूफान से मरने वालों की संख्या में अभी और इजाफा हो सकता है।
इस चक्रवाती तूफान की रफ्तार 110-120 किमी प्रतिघंटा बताई जा रही है। एनडीआरएफ के दल मुस्तैद हो गए हैं। फिलहाल चेन्नई समेत तमिलनाडु समेत तटवर्तीय इलाकों में तेज हवा के साथ तेज बारिश हो रही है।

varda_cyclone
तीन बजे तक रोकी गई चेन्नई एयरपोर्ट पर उड़ानें
साइक्लोन वरदा के चलते चेन्नई एयरपोर्ट में दोपहर तीन बजे तक सभी उड़ानें रोक दी गई है। नौसेना के जहाज को रजाली और डेगा के नौसैनिक एयर स्टेशन पर अलर्ट रखा गया है ताकि किसी तरह भी अनहोनी की स्थिति में फौरन बचाव और राहत कार्य में लगाया जा सके। इसके साथ ही, विशाखापट्टनम में 22 गोताखोरों के दल को तैयार रखा गया है।
साइक्लोन के लिए ऐसे जारी की जाती है चेतावनी, जानें पूरी प्रणाली
ओ. पन्नीरसेल्वम तैयारियों का ले रहे हैं जायजा

varda_cyclone1
तमिलनाडु सरकार ने एन्नोर और पालावेरकाडू में रहने वाले लोगों को जगह खाली करने के आदेश दे दिए हैं।तमिलनाडु सरकार ने जानकारी दी है कि अब तक 7357 लोगों को सुरक्षित रूप से 54 राहत केंद्रों पर ले जाया जा चुका है। इसके अलावा, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम लगातार सरकारी एजेंसियों की तैयारियों का जायजा ले रहे हैं। तमिलनाडु सरकार ने लोगों से 1 से 4 बजे तक घर से ना निकलने की अपील की है।
आंध्र प्रदेश में हाई अलर्ट
साइक्लोन के मद्देनजर आंध्र प्रदेश में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। अमरावती से अब तक 9,400 लोगों को सुरक्षित ठिकानों पर पहुंचाया जा चुका है।
कई इलाकों में सुबह से ही तेज बारिश
चेन्नई, तिरूवल्लूर एवं कांचीपुरम जिलों में सुबह से भारी बारिश हो रही है और इन जिलों में तेज हवाएं भी चल रही हैं। इन इलाकों के कई हिस्सों में एहतियातन विद्युत आपूर्ति बंद कर दी गई है। थल सेना, नौसेना एवं वायु सेना के साथ सशस्त्र बलों को भी तैयार रहने को कहा गया है ताकि कभी भी आवश्यकता पड़ने पर उन्हें तैनात किया जा सके।

cyclone-vardah_3
सेना पूरी तरह से तैयार
सेना के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बचाव एवं राहत कार्यों के लिए सेना की 6 टीमें बिल्कुल तैयार हैं। इसके अलावा सेना की एक अतिरिक्त टीम को स्टैंडबाय पर रखा गया है। थल सेना, नौसेना एवं वायु सेना के साथ सशस्त्र बलों को भी तैयार रहने को कहा गया है ताकि कभी भी आवश्यकता पड़ने पर उन्हें तैनात किया जा सके।वरदा से निपटने के लिए तमिलनाडु में एनडीआरएफ की 7 और आंध्र प्रदेश में 6 टीमें भेजी गई हैं।नेवी चीफ पीआरओ कैप्टन डीके शर्मा ने बताया कि चक्रवाती तूफान के चलते बड़ी संख्या में पेड़ टूटने की खबरें आ रही हैं। उन्होंने बताया कि नौसेना के दो जहाज शिवालिक और कदमत्त पहले से ही उत्तर दिशा में किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं।
2 से 4 बजे के बीच चेन्नई पहुंचेगा वरदा
मौसम विभाग के निदेशक एस बालाचंद्रन ने बताया कि वरदा के कारण ज्वार की लहरों के एक मीटर अधिक ऊंचा उठने की संभावना है। इसी के तहत सरकार ने सुमद्र के आस-पास रह रहे लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने की सलाह दी है। उन्होंने बताया कि तमिलनाडु के उत्तरी क्षेत्र और आंध्र प्रदेश के दक्षिणी क्षेत्र में भारी बारिश और तेज तूफान की आशंका जताई जा रही है। बंगाल की खाड़ी में वरदा 87 किलोमीटर प्रति घंटे का रफ्तार से चल रहा है। जो पश्चिम दिशा की ओर आगे बढ़ रहा है। बालाचंद्रन ने उम्मीद जताई है कि दोपहर 2 से 4 बजे के बीच चक्रवाती तूफान वरदा चेन्नई में दस्तक दे देगा।
वरदा साइक्लोन: चेन्नई में तेज बारिश, हवा की रफ्तार 100 KMPH रहने की संभावना.

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com