Saturday , August 6 2022

500 रु और १००० रू नोट आज रात १२ बजे से बंद, कल से बैंक में कोई पब्लिक डीलिंग नहीं होगी ये नोट्स केवल टिकेट खरीदने में या हॉस्पिटल में ही अभी इस्तेमाल कर सकते है !

जी हाँ!! पीएम मोदी ने लिया करारा फैसला जिससे आज रात 12 बजे से बंद होंगी 500, 1000 रुपये के नोट| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार रात को राष्ट्र के नाम संबोधन में बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि आज मध्यरात्रि से 500 और 1000 रुपये के नोट गैर-कानूनी हो जाएंगे. उन्‍होंने कहा कि लोगों को परेशान होने की जरूरत नहीं है, 30 दिसंबर तक 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट बैंकों और डाकघरों में जमा कराए जा सकते हैं.
कुछ कारणों से जो लोग 1,000 रुपये और 500 रुपये के नोट 30 दिसंबर तक जमा नहीं करा सकेंगे, वे लोग पहचान पत्र दिखाकर 31 मार्च, 2017 तक नोट बदलवा सकेंगे. 9 नवंबर को बैंकों में पब्लिक डीलिंग नहीं होगी. पीएम मोदी ने कहा कि कुछ जगहों पर अगले दो दिनों तक एटीएम काम नहीं करेंगे. रेलवे स्टेशनों, बस अड्डों पर फिलहाल इन नोटों से टिकट खरीदने पर छूट है. अस्पताल में अगले 72 घंटे तक यह छूट उपलब्ध है.
Rs 500 notes banned in india, Rs 1000 notes banned in india
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आतंकवाद की भयावहता कौन नहीं जानता. आतंकवाद और जाली नोटों का जाल देश को तबाह कर रहा है. इन आतंकियों को कहां से पैसा नसीब होता होगा. काले धन का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि इसके खिलाफ हमने एसआईटी बनाई, कानून बनाया. विदेशों का काला धन लाने के लिए समझौते किए.
भ्रष्टाचारियों से हम सवा लाख करोड़ रुपये का काला धन वापस लाए. उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार और आतंकवाद के खिलाफ निर्णायक लड़ाई जरूरी है. 500 से 1000 रुपये के नोट 80 से 90 फीसदी हो गए हैं.
प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि ग्‍लोबल समय का भारत चमकता हुआ सितारा बना है. पीएम ने कहा कि सबका साथ, सबका विकास हमारा मूल मंत्र है. उन्‍होंने कहा कि हमारी सरकार गरीबों के लिए समर्पित है, इस वर्ग को ध्‍यान में रखकर जन धन और जनसुरक्षा जैसी योजनाएं चलाई गई हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि आदिवासियों और दलितों के लिए हमने योजनाएं चलाई हैं. सरकार गांव, गरीबों और किसानों को समर्पित है. गरीबी हटाने में भ्रष्‍टाचार और काला धन सबसे बड़ी बाधा है. हिन्दुस्तान का सामान्य नागरिक ईमानदार है.

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com